संतकाव्य धारा || Sant Kavya Dhara

हिंदी साहित्य के संतकाव्य धारा से सम्बन्धित प्रश्न काफी बार परीक्षाओं में प्रश्न पूछे जाते हैं, जो कि हर विद्यार्थी के लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण हैं साथ ही कुछ प्रश्न हर परीक्षा में नये पैटर्न के अनुसार पूछे जाते हैं जो कि विद्यार्थी को परेशान करते है इसलिए आज हम संतकाव्य धारा से सम्बन्धित प्रश्न (Sant Kavya Dhara Se Sambandhit Prashna) नए पैटर्न के अनुसार आपके लिए लेके आयें है, दोस्तों तो चलिए शुरू करते है।

 

 
sant kavya dhara, sant kavya kya hai


प्रश्न- संत-साधना का साहित्यिक रूप प्रारम्भ हुआ?

1.    काशी
2.    प्रयाग
3.    पंढरपुर
4.    उज्जैन

उत्तर- 3. पंढरपुर

प्रश्न- ज्ञानाश्रयी शाखा के प्रमुख सन्त कवि का क्या नाम है?

1.    सूरदास
2.    चन्दरबरदाई
3.    कबीरदास
4.    विद्यापति

उत्तर- 3. कबीरदास

प्रश्न- कबीर के गुरू का नाम क्या था?

1.    रामानन्दसागर
2.    रैदास
3.    रविदास
4.    रामानन्द

उत्तर- 4. रामानन्द

प्रश्न- सधुक्कड़ी भाषा से आशय है?

1.    जिसमें कटूतियों का प्रयोग हो
2.    जिसमें अक्खड़पन की झलक हो
3.    जिसमें अनेक प्रांतीय भाषाओं/बोलियों के शब्दों का मिश्रण हो
4.    जिसमें साधु-संतो की गुप्त बातों के संकेतांक हों

उत्तर- 3. जिसमें अनेक प्रांतीय भाषाओं/बोलियों के शब्दों का मिश्रण हो

प्रश्न- रैदास किसके गुरू थे?

1.    मलूकदास
2.    हरिदास
3.    लालदास
4.    मीराबाई

उत्तर- 4. मीराबाई

प्रश्न- अंगवधू .......... की रचना है।

1.    गरीबदास
2.    मिस्कीनदास
3.    मूलकदास
4.    दादूदयाल

उत्तर- 4. दादूदयाल

प्रश्न- निर्गुनियाँ सन्तों की काव्य-सर्जना सर्वाधिक आधारित दिखती है-

1.    आदिकाल लोककथाओं पर
2.    नाथों की रचनाओं पर
3.    दक्षिण भारत के वीर शैवों की भाँति भावना पर
4.    सूफियों की यौगिक साधाना पर

उत्तर- 2. नाथों की रचनाओं पर

प्रश्न- सिंकदर लोदी ने किसके कहने पर कबीरदास को जंजीर से बाँधकर गंगा में डुबाया था?

1.    गुलाम हसनैन
2.    मुहम्मद शाह
3.    शेख तकी
4.    शेख फिदा हुसैन

उत्तर- 3. शेख तकी

प्रश्न- "भाषा बहुत परिष्कृत और परिमार्जित न होने पर भी कबीर की उक्तियों में कहीं-कहीं विलक्षण प्रभाव और चमत्कार है। प्रतिभा उनमें प्रखर थी इसमें संदेह नही"- पंक्तियों के लेखक हैं?

1.    डॉ. नगेन्द्र
2.    आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी
3.    डॉ. राममूर्ति त्रिपाठी
4.    आचार्य रामचन्द्र शुक्ल

उत्तर- 4. आचार्य रामचन्द्र शुक्ल

प्रश्न- "तुम्ह जिनि जानी गीत है, यहु निज ब्रह्ना-विचार किसने" कहा हैं?

1.    कबीर
2.    रैदास
3.    सूरदास
4.    तुलसीदास

उत्तर- 1. कबीर

प्रश्न- निम्नलिखित विकल्पों में से जो संत काव्य की विशेषता नहीं है, उसे छाँटिए-

1.    बह्याडम्बरों का खंडन
2.    गुरू का महत्व प्रतिपादन
3.    सगुण ईश्वर की उपासना
4.    जाति पाँति का विरोध

उत्तर- सगुण ईश्वर की उपासना

प्रश्न- कबीर किस शासक के समकालीन थे?

1.    हुमायूँ
2.    अकबर
3.    सिकन्दर लोदी
4.    बहादुरशाह जफर

उत्तर- 3. सिकन्दर लोदी

प्रश्न- आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी ने "वाणी का डिक्टेटर" किसे कहा था?

1.    कबीर
2.    रैदास
3.    दादू
4.    नानक

उत्तर- 1. कबीर

प्रश्न- कबीरदास की मृत्यु कहाँ हुई?

1.    काशी
2.    मगहर
3.    बनारस
4.    इलाहाबाद

उत्तर- 2. मगहर

प्रश्न- "सन्तकाव्य" नाम किसने दिया हैं?

1.    आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
2.    राहुल सांकृत्यायन
3.    रामकुमार वर्मा
4.    हजारी प्रसाद द्विवेदी

उत्तर- 3. रामकुमार वर्मा

प्रश्न- "अजगर करे न चाकरी पंक्षी करे न काम" किसने कहा हैं?

1.    तुलसीदास
2.    सूरदास
3.    रैदास
4.    मूलकदास

उत्तर- 4. मूलकदास

प्रश्न- निम्नलिखित निर्गुण कवियों का सही काल क्रम कौन सा है?

1.    दादू-कबीरदास-सुन्दरदास-मलूकदास
2.    मलूकदास- सुन्दरदास-कबीरदास-दादू
3.    सुन्दरदास-मलूकदास-दादू-कबीरदास
4.    कबीरदास-दादू- मलूकदास-सुन्दरदास

उत्तर- 4. कबीरदास-दादू- मलूकदास-सुन्दरदास

प्रश्न- रज्जब अली खाँ के गुरू थे?

1.    नानक
2.    दादूदयाल
3.    मलूकदास
4.    धत्रा

उत्तर-2. दादूदयाल

प्रश्न- इनमें कौन "बावरी पंथ" से सम्बन्धित नहीं है?

1.    बुल्ला साहेब
2.    बुलाल साहेब
3.    पलटू साहेब
4.    संत साहेब

उत्तर- 3. पलटू साहेब।

प्रश्न- "ज्ञानमार्गी शाखा" के कवियों को किस नाम से पुकारा जाता है?

1.    सिद्व कवि
2.    नाथपंथी कवि
3.    भक्त कवि
4.    संत कवि

उत्तर- 4. संत कवि।

प्रश्न- "ज्ञानबोध" किसकी रचना है?

1.    सुन्दरदास
2.    मलूकदास
3.    रज्जब जी
4.    इनमें से कोई नहीं

उत्तर- 2. मलूकदास

प्रश्न- "भक्ति विवेक" निम्नलिखित में से किसकी रचना है-

1.    मलूकदास
2.    सुन्दरदास
3.    नाभादास
4.    दादूदयाल

उत्तर- 1. मलूकदास ।

प्रश्न- निगुर्ण ज्ञानाश्रयी शाखा का दूसरा नाम है-

1.    राम भक्ति शाखा
2.    कृष्ण भक्ति शाखा
3.    संत साहित्य
4.    सूफी साहित्य

 उत्तर- 3. संत साहित्य।

प्रश्न- कबीर की वाणी का संग्रह "बीजक" कहलाता है, इसके कितने भाग हैं-

1.    दो
2.    तीन
3.    चार
4.    पाँच

उत्तर- तीन।

प्रश्न- "सब्बंगी" रचना किसकी हैं?

1.    दादूदयाल
2.    पीपा
3.    रैदास
4.    रज्जब

उत्तर- 4. रज्जब।

प्रश्न- मुसलमान अनुयायी कबीरदास को किन का शिष्य मानते हैं?

1.    शेख तकी
2.    रज्जब
3.    मुइनुद्यीन चिश्ती
4.    नूर मुहम्मद

उत्तर- 1.शेख तकी।

प्रश्न- सूर समाना चंद में दहूँ किया घर एक।
      मन का चिंता तब भया कछू पुरबिला लेख।।

1.    तुलसीदास
2.    सुन्दरदास
3.    दादूदयाल
4.    कबीरदास

उत्तर- 4.कबीरदास।

प्रश्न- आचार्य रामचंद्र शुक्ल के अनुसार "कबीर ने अपनी साखियों में 'सधुक्कड़ी' भाषा का प्रयोग किया हैं।"
सधुक्कड़ी से उनका अभिप्राय है-

1.    ब्रजभाषा मिश्रित पूरबी बोली
2.    ब्रजभाषा मिश्रित खड़ी बोली
3.    राजस्थानी पंजाबी मिली खड़ी बोली
4.    पाँच भाषाओं के मिश्रण वाली भाषा

उत्तर- 3. राजस्थानी पंजाबी मिली खड़ी बोली

प्रश्न- सहजोबाई किस शाखा की रचनाकार हैं?

1.    कृष्णभक्ति शाखा
2.    रामभक्ति शाखा
3.    ज्ञानश्रयी शाखा
4.    प्रेमाश्रयी शाखा

उत्तर- 3. ज्ञानश्रयी शाखा।

प्रश्न- निर्गुण काव्य धारा की प्रवृत्ति हैं?

1.    वात्सल्य रस की प्रधानता
2.    प्रकृति पर चेतन सत्ता का आरोप
3.    रूढियों एवं बाह्याडम्बरों का विरोध
4.    आश्रयदाता की प्रशंसा

उत्तर- 3. रूढियों एवं बाह्याडम्बरों का विरोध

प्रश्न- निर्गुण संत कवियों में सर्वाधिक शास्त्रज्ञ एवं सुशिक्षित थे?

1.    रज्जब
2.    सुन्दरदास
3.    धर्मदास
4.    दादूदयाल

उत्तर- 2. सुन्दरदास

प्रश्न- "हरडेवाणी" एवं "अगंवधू" किसकी वाणी के संकलन हैं-

1.    सुन्दरदास
2.    दादूदयाल
3.    मलूकदास
4.    कबीरदास

उत्तर- 2. दादूदयाल

प्रश्न- "चंडी चरित्र" किसकी विश्ष्टि साहित्यिक रचना है-

1.    गुरू गोविन्द सिंह
2.    अर्जुन सिंह
3.    रामदास
4.    अंगद

उत्तर- 1. गुरू गोविन्द सिंह

प्रश्न- इनमें से कौन-सा कथन असत्य हैं?

1.    ज्ञानाश्रयी शाखा के कवि निराकार की उपासना करते हैं।
2.    कबीर संत कवि हैं।
3.    प्रभुजी तुम चंदन हम पानी रैदास की पंक्ति है।
4.    संत तुलसीदास ज्ञानाश्रयी शाखा के कवि हैं।

उत्तर- 4. संत तुलसीदास ज्ञानाश्रयी शाखा के कवि हैं।

प्रश्न- "नीमा" किस कवि की माता का नाम था?

1.    रहीमदास
2.    सूरदास
3.    कबीरदास
4.    मलूकदास

उत्तर- 3. कबीरदास

प्रश्न- "सन्त ह्नदय नवनीत समाना" किसकी उक्ति हैं?

1.    कबीरदास
2.    सूरदास
3.    रैदास
4.    तुलसीदास

उत्तर- 4. तुलसीदास


प्रश्न- "इसमें कोई संदेह नहीं कि कबीर को राम-नाम रामानंद जी से ही प्राप्त हुआ। पर आगे चल कर कबीर के राम रामांनद के राम से भिन्न हो गए।" यह कथन किसका हैं?

1.    राहुल सांकृत्यान
2.    रामचंद्र शुक्ल
3.    हजारीप्रसाद ि़द्ववेदी
4.    माताप्रसाद गुप्त

उत्तर- 2. रामचंद्र शुक्ल।


प्रश्न- कबीर की भाषा के संदर्भ में कौन सा वाक्य गलत है?

1.    भाषा में खरापन है।
2.    कहीं कहीं भाषा गँवारू लगती है।
3.    साहित्यिक कोमलता है।
4.    भाषा में अकखड़पन है।

उत्तर- 3. साहित्यिक कोमलता है।

प्रश्न- किस काव्य धारा में मूर्ति-पूजा और अवतार वाद का विरोध किया गया हैं?

1.    सगुण काव्य धारा
2.    संत काव्य धारा
3.    कृष्ण काव्य धारा
4.    राम काव्य धारा

उत्तर- 2. संत काव्य धारा

प्रश्न- रैदास किस धारा एवं शाखा के कवि थे?

1.    सगुणधारा कृष्णभक्ति शाखा
2.    निर्गुणधारा ज्ञानाश्रयी शाखा
3.    निर्गुणधारा प्रेमाश्रयी शाखा
4.    सगुणधारा रामभक्ति शाखा

उत्तर- 2. निर्गुणधारा ज्ञानाश्रयी शाखा।

प्रश्न- कबीरदास को मानवतावादी कवि क्यों कहा जाता हैं?

1.    वे मानव थे।
2.    वे मानव के बीच नहीं रहते थें।
3.    उन्होंने मानव-मानव में भेद न करते हुए सबके उत्थान की बातें की।
4.    मानव की पीड़ा की परवाह नहीं की।

उत्तर- 3. उन्होंने मानव-मानव में भेद न करते हुए सबके उत्थान की बातें की।

प्रश्न- "जागो फिर एक बार" कविता के रचनाकार कौन है?

1.    निराला
2.    दिनकर
3.    गणेशशंकर विद्यार्थी
4.    माखनलाल चतुर्वेदी

उत्तर- 1. निराला।



संतकाव्य धारा से सम्बन्धित प्रश्न (Sant Kavya Dhara Se Sambandhit Prashna)  से ये प्रश्नोत्तरी आपको कैसी लगी , जानकारी आपको पंसद आये तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। साथ ही आपका कोई सुझाव हों, तो हमें कमेंट में जरूर बतायें। 

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

Previous Post Next Post